गुरुवार, जून 04, 2009

मैं कहाँ हूँ...?


उसने कहा मैं कहाँ हूँ..?

मैंने कहा मेरे दिल में,
मेरी साँसों में,

मेरे जेहन में,

मेरी नस-नस में,

उसने कहा मैं कहाँ नही हूँ..?

मैंने कहा मेरी किस्मत में..!!

2 Responzes:

महामंत्री - तस्लीम ने कहा…

क्‍या बात है।

लाजवाब कर गयी आपकी क्षणिका।

-Zakir Ali ‘Rajnish’
{ Secretary-TSALIIM & SBAI }

Anjali ने कहा…

Simply Mind Blowing!! Good Luck

LATEST:


विजेट आपके ब्लॉग पर

Blogspot Templates by Isnaini Dot Com. Powered by Blogger and Supported by Best Architectural Homes