गुरुवार, अगस्त 20, 2009

मुस्कुराने की आदत कविताएँ..!

आदत बना लो
हमेशा मुस्कुराने की।
कठिनाई परेशानी में
किसी के काम आने की।
परिश्रम से कर्तव्य से
जी न चुराने की।
जरा-जरा सी बात पर
हल्ला न मचाने की।
निन्दा न करने की
चुगली न करने की।
किए हुए वादे को
हमेशा निभाने की |


साभार : वेबदुनिया (The First Hindi Web Portal)

3 Responzes:

Udan Tashtari ने कहा…

बहुत अच्छा लगा पढ़कर.

आज ही दस दिनों की टेक्सस यात्रा से लौटा. अब सक्रिय होने का प्रयास है.

अब लगातार पढ़ना है, नियमित लिखें..

सादर शुभकामनाऐं.

Sheena ने कहा…

bahut khoob

-Sheena

रामकृष्ण गौतम ने कहा…

To;

Dear Sameer Sir (Udan Tashtari JI),


I am trying to make my blog writings more and readable. Need YOUR Support. Thanking YOU very much.

LATEST:


विजेट आपके ब्लॉग पर

Blogspot Templates by Isnaini Dot Com. Powered by Blogger and Supported by Best Architectural Homes